डेंगू बुखार से लड़ने का आ गया समय, पहले समझ लें फिर लड़ें

Time to fight dengue fever, first understand then fight
631 Views

 

अब सीजन बदल रहा है, और सीजन के साथ कई सारी चीजें भी बदल रही हैं। वैसी ही अगर बात करें तो डेंगू का समय भी आ चुका है। इन दिनों डेंगू का बुखार तेजी से फैल रहा है। इसलिए जरूरी है कि इसका ध्यान के साथ सावधानी भी रखी जाए।

बतादें की डेंगू का बुखार मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। मच्छर के काटने के करीब 3-5 दिनों बाद डेंगू बुखार के लक्षण दिखने लगते हैं। अगर इसका समय रहते सही इलाज न करवाया गया तो यह खतरनाक भी साबित हो सकता है। इसलिए डेंगू बुखार को जल्द से जल्द पहचान कर उसका इलाज करवाएं और आनी वाली समस्या से निजात पाएं। तो चलिए जानते हैं डेंगू बुखार के बारे में विस्तार से….

रोजाना की ये तीन चीजें व्यस्त जीवन में भी बनाती हैं स्वस्थ

वक्त पर करें डेंगू का सही इलाज

Dengue fever treatment at the right time
Dengue fever treatment at the right time

डेंगू का अगर वक्त पर सही इलाज न करवाया जाए तो यह खतरनाक भी बन जाता है।

इसलिए वक्त पर इसका सही इलाज हो तो हालात कंट्रोल में रहती है।

नहीं तो यह बीमारी जानलेवा भी साबित हो सकती है। जितना मुश्किल डेंगू के संग्रमण से खुद को बचा कर रखना है,

उतना ही कठिन उससे पूरी तरह उबरना है। तो इसका इलाज ही सतर्कता है।

न केमिकल युक्त दवाई न घरेलू नुस्खे, कान के दर्द को आराम पहुंचाए ये तीसरा उपाय

कैसे पहचानें डेंगू का बुखार

डेंगू के पनपने का समय आ गया है। और यह पनपने के साथ फैलने भी लगा है इसलिए जरूरी है,

की आप इसके लक्षण को जानें और इससे बचने के उपाय पहचानें। सबसे पहले यह जानें लें,

कि डेंगू होने पर तेज बुखार के साथ हाथ पैरों में दर्द रहता है, भूख नहीं लगती और जी मचलाने,

के साथ उल्टी-दस्त लगना शुरू हो जाते हैं। आंखो में दर्द, तेज सिरदर्द, कमजोरी और जोड़ों में दर्द के लक्षण दिखाई देते हैं। इसके साथ ही डेंगू बुखार होने पर त्वचा पर लाल धब्बे पड़ना और नाक से खून आना जैसी समस्या भी शुरू हो जाती है।

मुट्ठी भर मूंगफली के फायदे जीवन बना देते हैं आसान

कैसें करें डेंगू से बचाव

आपने डेंगू के लक्षण तो जान लिए लेकिन अब आप डेंगू से बचने के लिए भी उसके उपाय जान लें। डेंगू से बचने के लिए उपाए नीचे बता रहे हैं जिसे ध्यान से पढ़ कर आप इससे बच सकते हैं।

  1. घर के आस-पास साफ-सफाई रखें।
  2. पानी उबालकर या फिर फिल्टर करके पीएं।
  3. कूलर, गमले और छतों में पानी जमा न होने दें।
  4. मच्छरों से बचने के लिए क्रीम, स्प्रे और ऑयल लगा लें।
  5. ठंडा पानी न पीएं और बासी खाना खाने से भी परहेज करें।
  6. रात में सोते समय ऐसे कपड़े पहनें जो शरीर के हर हिस्से को ढक सकें।
  7. पीने वाले पानी को खुला न छोड़ें क्योंकि संक्रमित पानी पीने से भी यह बीमारी हो सकती है।

व्रत के दौरान इन चीजों का रखे ध्यान तो बने रहेगें पूरे दिन एनर्जी से भरपूर

ये जूस जो बढ़ाते हैं सेल्स

1. एक गिलास गाजर के जूस में तीन या चार चम्मच चुकंदर का रस मिलाकर कर पीने से सेल्स की संख्या में वृध्दि होती है साथ ही इससे प्रतिरोधी क्षमता बढ़ती है। जिससे ब्लड सेल्स की मात्रा तेजी से बढ़ने लगती है।
2. नारियल पानी की अगर बात करें तो इसमें इलेक्ट्रोलाइट्स अच्छी मात्रा में होते हैं। इसके अलावा यह मिनिरल्स का भी बहुत अच्छा स्त्रोत होता है, जिसे पीने से शरीर में ब्लड सेल्स की कमी को पूरा किया जा सकता है।

शरीर में होने वाले ये संकेत आने वाली बीमारियों का कारण होते हैं

All story image source from Google

हमारे सोशल परिवार का हिस्सा बनने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Health अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे |

Author Profile

Ramgovind kabiriya
Ramgovind kabiriya
मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Related posts

Leave a Comment