वजन कम करने के लिए आप रोटी और चावल में से किसे चुनेगे

785 Views

भारतीय लोग खाना खाने के काफी शौकीन होते हैं। फिर चाहे बात चावल की हो या रोटी की दोनों ही चीज को लोग ज्यादा पसंद करते हैं। हमारे खाने में रोटी, चावल का अहम् स्थान रहा है। हम चाह करके भी रोटी और चावल से खुद को दूर नहीं कर सकते है। लेकिन जब बात मोटापे को कम करने की आती है। तो सबसे पहले इस बात पर सवाल जाता हे। rice vs wheat for weight loss कि दोनों में से ऐसी कौनसी चीज खाए और किसे नहीं देखा जाये? तो दोनों में ही कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा रहती है। लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि ज्यादा मात्रा में प्रोटीन लेने से आपका मोटापा कम होता है। तो ऐसे में क्या करें:

यह भी पढ़े:  रोजाना खायें बस एक केला और जमाने भर की बीमारियों को करें दूर

Rice vs wheat for weight loss

भारतीय खाने में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा होती है और प्रोटीन की कम। लेकिन वजन घटाने के लिए शरीर को प्रोटीन की अधिक खुराक चाहिए।

ऐसे में वजन कम करने के लिए भी कोशिश यह करनी चाहिए। कि आप कम कार्ब वाला भोजन ग्रहण करें।

लेकिन यह बिल्कुल भी जरुरी नहीं है कि आप इन दोनों ही आहारों को एक साथ छोड़ दिया जाए।

तो फिर सवाल लिए आता है कि रोटी खाई जाये या चावल?

यह भी पढ़े: भूल से भी खाली पेट इन चीजों का सेवन न करें वरना पछताना आपको ही पड़ेगा

रोटी में न्यूट्रिशन और कैलोरी

देखा जाए तो रोटी में पूरी तरह से कार्बोहाइड्रेट नहीं होता है। यह कई प्रकार के माइक्रो न्यूट्रीएंट्स, प्रोटीन फाइबर से बनी होती है।

जो हमारे शरीर के लिए अति आवश्यक है। आप 6 इंच की चपाती का उदाहरण ले। तो इसमें आपको:

15 ग्राम कार्ब्स
3 ग्राम प्रोटीन
0.4 ग्राम वसा
71 कैलोरी

यह भी पढ़े:  ठंडे दूध में 10 मिनट तक भिगोई हुई बासी रोटी का सेवन इन बड़ी बीमारियों से छुटकारा दिलाता है

chawal or roti me kon se nutrition hote hai
chawal or roti me kon se nutrition hote hai

चावल में न्यूट्रिशन और कैलोरी

वही दूसरी ओर 1/3 सर्विंग चावल में मौजूदा:

80 कैलोरी
1 ग्राम प्रोटीन
0.1 ग्राम फैट
18 ग्राम कार्बोहाइड्रेट

कौन पानी में है ज्यादा घुलनशील

रोटी और चावल दोनों ही फोलेट होता है। जो पानी में घुलने के बाद विटामिन बी होता है।

जो हमारे शरीर में डीएनए और नई कोशिका को बनाने के लिए काम करता है।

रोटी और चावल में धातु

देखा जाए, तो चावल और रोटी लोहे की मात्रा एक जैसी ही होती है।

लेकिन चावल में फास्फोरस और मैग्नीशियम की मात्रा कम होती है। जो रोटी थोड़ी ज्यादा मात्रा में होती है।

शरीर में फास्फोरस गुर्दे के लिए महत्वपूर्ण होती है। साथ ही यह कोशिकाओं की मरम्मत करने में भी सहायक होती है।

यह लाल रक्त कोशिका यानी आरबीसी निर्माण के लिए शरीर में आयरन की कमी को पूरी करता है। मैग्नीशियम रक्तचाप शुगर के लेवल को कंट्रोल में करता है।

poshan visheshgyo ki roti or chawal par ray
poshan visheshgyo ki roti or chawal par ray

डाइटीशियन की राय

अगर डाइटीशियन की माने तो आपको वेट लॉस यानि वजन कम करना है।

तो चावल और रोटी के बीच में किसी एक चीज को चुना अति आवश्यक है।

तो हमेशा रोटी को ही चुने, लेकिन आजकल ग्लूटेन फ्री डाइट का चलन ज्यादा है। जिस कारण से लोग चपाती की जगह चावल लेने लग गये हैं।

किस प्रकार के चावल खाएं

यदि आपको रोटी की वजह चावल खाना पसंद करते हैं। तो कोशिश करें कि हमेशा ब्राउन राइस का चुनाव करें।

ऐसा इसलिए क्योंकि बाजार में मिलने वाले चावल पालिश वाले होते हैं। जिसमें जरुरी पोषक तत्वों की मात्रा कम होती है। यह शरीर में जाकर शक्कर जैसा ही काम करते हैं।

यह भी पढ़े:  ठंडे दूध के साथ बासी रोटी का सेवन ऐसे-ऐसे फायदे देगा की अस्पताल जाना भूल जाओगे

rat me kya khana chahiye
rat me kya khana chahiye

क्या रात में चावल खाना चाहिए

यह सवाल वाकई में पूछने वाला होता है कि रात में चावल खाना सही है या गलत? क्योंकि अक्सर गर्मियों के समय लोग हल्का खाना पसंद करते हैं। उनका सोचना होता है कि चावल खाकर के संतुष्ट हो जाए।लेकिन आपको बता दें, रात के समय चावल बिल्कुल भी नहीं खाएं है। rice vs wheat for weight loss नहीं, तो इससे दूसरे दिन आपका वजन बढ़ा हुआ नजर आएगा। रात्रि में आप भरवा पराठा खा सकते हैं। या फिर बेसन का चीला लेना उचित रहेगा वजन कम करना है। तो थाली में भरकर चावल कभी ना ले।

यह भी पढ़े: सुबह खाली पेट पानी में भीगे हुए किशमिश के सेवन से खत्म हो जाते हैं ये तीन रोग

Recommended Post

All story image source from Google

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Health अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे ।

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Recommended Post