FDC Medicine: एफडीसी दवाइयां क्या है और क्यों लगा इन पर बैन

fdc medicine are banned in india
145 Views

_ What is the FDC medicines and why the bans on these

देश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा तत्काल प्रभाव करने वाली 328 fdc medicine यानी फिक्स्ड डोज कॉम्बिनेशन पर बड़ा फैसला लिया.

मतलब निश्चित खुराक संयोजन के उत्पाद बिक्री अथवा वितरण पर प्रतिबंध लगाया है.

चलिए जानते हैं, आखिर सरकार को क्यों उठाना पड़ा अहम कदम:

LIC की इस  पाॅलिसी में मात्र 14 रूपए खर्च कर 15 लाख रूपए प्राप्त कर सकते हैं

क्यों लगाया इन fdc medicine पर प्रतिबंध

आपको बता दें, सरकार द्वारा जिन दवाइयों पर प्रतिबंध लगाया गया है.

यह वह दवाई है, जिन्हें जल्द आराम पाने के लिए दुकानों पर से बिना पर्ची के ही खरीद लिया जाता है.

इस पर तकनीकी सलाहकार बोर्ड से करने के बाद प्रतिबंध बेन करने के बारे में निर्णय लिया गया.

why fdc medicine are banned in india reason
why fdc medicine are banned in india reason

ड्रग्स टेक्निकल एडवाइजरी बोर्ड का बयान

मीडिया सूत्रों इंडिया टुडे की रिपोर्ट की माने तो 328 एफडीसी दवाइयों के लिए कोई चिकित्सक औचित्य नहीं है.

इसके चलते मनुष्यों के लिए यह जोखिम साबित हो सकता है.

इस कारण से स्वास्थ्य मंत्रालय मंत्रालय द्वारा यह निर्णय लिया गया.

लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए दवाई और प्रसाधन अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की गई है.

जिस में लगने वाली 1940 की धारा 26 ए है.

क्या आप भी सब्जी या फल को छीलकर खाना पसन्द करते हैं तो ध्यान से पढ़ें ये खबर

किन fdc medicine दवाइयों पर लगाई सरकार ने रोक

सरकार द्वारा जिन दवाइयों पर रोक लगाई गई है.

ndtv इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक यह फेंसिडील, विक्स एक्शन 500, कोरेक्स,सेरिडॉन, डिकोल्ड, जिंटाप, सुमो, जीरोडॉल और कई तरह के एंटीबायोटिक्स होगी.

इसके अलावा पेन किलर, शुगर और दिल की बीमारियों से संबंधित दवाइयों को शामिल किया गया है.

आप भी अगर बैठे बैठे हिलाने लगते है पैर तो अब हो जाएँ सावधान क्योंकि..

दवा नियंत्रक की मेल टुडे से चर्चा

डॉक्टर अतुल नासा की माने तो सरकार द्वारा संयोजन दवाओं पर प्रतिबंध लगाना सही कदम है.

इससे पहले भी सन 2010 में fdc सरकार 344 श्रेणियों को प्रतिबंध करने के लिए अधिसूचना लाई थी.

बाद में कंपनियों द्वारा चुनौती भी दी गई.

fdc medicine manufacturer company will have loose in india
fdc medicine manufacturer company will have loose in india
प्रतिबंध के बाद कंपनियों को कितना नुकसान होगा

इकोनॉमिक्स टाइम्स की माने तो फार्मास्युटिकल मार्केट रिसर्च फर्म एआईओसीडी अवैक्स फार्माट्रैक की रिपोर्ट के अनुसार:

अंगूर खाने के ऐसे फायदे जिसे बहुत ही कम लोग जानते हैं

भारत में मौजूदा 1.8 लाख करोड़ के फार्म स्टिक उद्योग में से 15 सौ करोड़ रुपए से ज्यादा के नुकसान होने की आशंका जताई है.

जिसकेचलते मेडिकल क्षेत्र कि कई कंपनियों को भारी नुकसान होगा.

All Images From Google Search

हमारे सोशल परिवार का हिस्सा बनने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी News के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

नीचे दी गयी स्टोरी भी पढ़े:

नहीं बना अब तक आपका राशन कार्ड तो इन दो आसान तरीको से बनवा सकते हैं अपना राशन कार्ड

अनुष्का शर्मा फंसी इस गंभीर बीमारी की चपेट में, जानें क्या होता है इस बीमारी में

डेंगू और चिकनगुनिया को तो बिना अस्पताल जाए घर से ही कर लें इलाज

बारिश के समय घर से जहरीले जानवरों भगाने के यह उपाय

Author Profile

Prakash Panwar
Prakash Panwar
मैं एक फ्रीलॉंसर हिंदी कंटेंट राइटिंग करता है. मुझे टेक्नोलॉजी, एंटरटेनमेंट, पॉलिटिक्स और एजुकेशन जैसी बिट पर लिखना पसंद करता है. खाली समय में कंप्यूटर पढ़ना बहुत अच्छा लगता है. क्वालिफिकेशन की बात की जाये तो में बी-टेक कंप्यूटर साइंस से अध्यनरत हूँ.

Related posts

Leave a Comment