Categories

Archives

ज्यादा फायदे चाहिए तो सरकारी नौकरी की शुरुआत में करें रिटायरमेंट की प्लानिंग

50 Views

आजकल एक सुखद और आरामदायक रिटायरमेंट का सपना को नहीं देखता। लेकिन सभी सपने पर खरे नहीं उतर पाते हैं। क्योंकि सही प्लानिंग के अभाव में लक्ष्य को हासिल करना बेहद कठिन हो जाता है। हालांकि अगर समय रहते सही योजना बना ली जाए। तो यह इतना मुश्किल भी नहीं है। तो चलिए आज आपको कुछ जानकारों के द्वारा बताई गई। Retirement planning in india वित्तीय शासन की 7 लंबी अवधि की एक बेहतर योजना बताने वाले हैं। जो यदि रिटायरमेंट के साथ प्लान किया। तो आपका भविष्य सुखद में हो सकता है:

यह भी पढ़े: Google पर कभी भी न करें ये 3 चीजें सर्च हो सकती है जेल

Retirement planning in india

  • क्या शुरुआत में रिटायरमेंट की प्लानिंग करना सही है
  • संयम के साथ खर्चे करने की आदत बनाएं
  • लोन लेने की कैसे करें प्लानिंग
  • इंश्योरेंस लेना कितना अहम है

क्या शुरुआत में रिटायरमेंट की प्लानिंग करना सही है

देखने में आया है कि लोग अक्सर सरकारी नौकरी में काफी लंबा समय बिताने के बाद रिटायरमेंट के बारे में सोचते हैं।

लेकिन नौकरी शुरू करते ही लोगों को रिटायरमेंट की प्लानिंग भी शुरू कर देनी चाहिए। क्योंकि नौकरी के शुरुआती दिनों में इस योजना को बनाने में आपको काफी समय मिल जाता है।

साथ ही साथ जिम्मेदारियों के बढ़ने और आपके ऊपर निवेश बोज भी नहीं लगता।

यह भी पढ़े: Wrong Number से हो रहे परेशान तो कम्प्यूटर की मदद से करें उसकी पहचान

ऐसे में लक्ष्य का निर्धारण करने के बाद लोगों को फिक्स डिपॉजिट, पब्लिक प्रोविडेंट फंड, इन म्युचुअल फंड और पेंशन स्कीम में निवेश करना प्रारंभ कर देना चाहिए।

यह लोगों को शुरुआती दिनों में खर्चों पर लगाम लगाने के साथ-साथ रेगुलर निवेश करना सिखाएगा।

संयम के साथ खर्चे करने की आदत बनाएं

अक्सर लोगों में आय से ज्यादा खर्च करने की आदत होती है। तो आपको ऐसी आदत से बचना चाहिए। अगर ऐसा जारी रहेगा। तो भविष्य में पैसा इकट्ठा करना नहीं कर पाएंगे।

आपको इसके लिए एक बजट बनाने की आवश्यकता है। अक्सर लोग गैरजरूरी खर्चों को कम करने की कोशिश करनी चाहिए। संयम के साथ खर्च करने की आदत से आपके पास पर्याप्त फंड यानी पैसा रहेगा।

यही वह पैसा है, जो आपके भविष्य आकस्मिक खर्चों और रिटायरमेंट के लिए काफी फायदेमंद साबित होगा। इसके अलावा रिटायरमेंट के बाद जरूरतों को पूरा करना भी काफी सरल हो जाएगा।

यह भी पढ़े:  रेल डिब्बों पर लिखे इन नम्बरों के बारे में रेल कर्मचारी भी नहीं जानते..

chutiyo ke liye loan kaise plan kare
chutiyo ke liye loan kaise plan kare

लोन लेने की कैसे करें प्लानिंग

सरकारी नौकरी के दौरान लोगों को किसी भी शार्ट खर्चे के लिए लोन ऐसे लेना चाहिए। कि आपकी रेगुलर सेविंग प्रभावित नहीं हो। इसके साथ आपका कोई भी काम रुके नहीं।

तथा रिटायरमेंट भी प्रभावित नहीं हो।

मान के चलते हैं कि आपने 1 साल के बाद विदेश घूमने जाने के लिए 300000 इकठे करने का लक्ष्य बनाया है।

इससे में समय रहते आपको निवेश शुरू कर देना चाहिए।

ताकि समय रहते आपके पास रुपए भी इक्कठे हो जाए।

अगर आपने ऐसा नहीं किया।

तो भविष्य में यात्रा से पहले आखिरी समय में आपको पर्सनल लोन लेना पड़ सकता है।

आपको बता दें, पर्सनल लोन की ब्याज दरें काफी ज्यादा होती है।

ऐसे में आपका निवेश गड़बड़ा सकता है। अपनी समझदारी से लगातार निवेश और बचत करना बेहद जरूरी है।

यह भी पढ़े: इनकम टैक्स से पाना चाहते हैं छुटकारा तो अभी अपना लें ये 6 तरीके

loan lene ke liye prabandhan kaise kare
loan lene ke liye prabandhan kaise kare

लोन के लिए प्रबंधन कैसे करें

देखा जाए तो, आज के समय में हर कोई किसी ना किसी प्रकार का लोन लेने की आवश्यकता पड़ ही जाती है।

ऐसे में लोन का सही प्रबंधन एक चुनौती भरा काम है।

क्योंकि अगर आपने इसका उचित प्रबंध नहीं किया।

तो भविष्य में आप की बचत रिटायरमेंट की योजना को बड़ा धक्का लग सकता है।

लोन को बेहतरीन तरीके से प्रबंध करने के लिए आपके क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने का उपाय करना चाहिए।

इसके साथ ही साथ यह लोम कि ईएमआई चुके बिना बगैर लोन का भुगतान करने की कोशिश करनी चाहिए।

यह भी पढ़े3 तरीको से किसी भी बैंक का क्रेडिट कार्ड आपके हाथ में होगा

insurance lena kyu jaruri hai
insurance lena kyu jaruri hai

इंश्योरेंस लेना कितना अहम है

retirement planning in india एक अच्छे रिटायरमेंट के लिए समय रहते हैं।

हेल्थ इंश्योरेंस, टर्म इंश्योरेंस और अन्य प्रकार की बीमा योजनाओं का लाभ लेना बेहद जरूरी है।

देखिए उम्र बढ़ने के साथ ही इंश्योरेंस पॉलिसी का प्रीमियम भी काफी महंगा हो जाता है।

इस कारण से आपको सही समय पर लेना यह उचित है।

टर्म इंश्योरेंस आपके लिए अनिवार्य है।

देखा जाए तो, टर्म इंशोरेंस का फायदा बीमित व्यक्ति को नहीं मिलता है।

लेकिन उसके आश्रित लोगों को जीवन काफी सरल हो जाता है।

इसलिए व्यक्ति को अच्छे और सुख रिटायरमेंट के लिए टर्म निवेश पर भी ध्यान देना चाहिए।

यह भी पढ़े: बारातियों ने सड़कों पर तोड़े नए नियम तो देना पड़ेगा लाखों का जुर्माना

All story image source from Google

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Life Easy अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे ।

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Prakash Panwar

मैं एक फ्रीलॉंसर हिंदी कंटेंट राइटिंग करता है. मुझे टेक्नोलॉजी, एंटरटेनमेंट, पॉलिटिक्स और एजुकेशन जैसी बिट पर लिखना पसंद करता है. खाली समय में कंप्यूटर पढ़ना बहुत अच्छा लगता है. क्वालिफिकेशन की बात की जाये तो में बी-टेक कंप्यूटर साइंस से अध्यनरत हूँ.

Hide Related Posts