ये 3 उपाय करने के बाद आइंस्टीन से भी तेज दौड़ेगा आपका दिमाग

lifestyle
809 Views

दुनिया कि भागदौड़ भरी ज़िंदगी में कुछ लोग पीछे रह जाते है तथा आगे बढ़ने के लिए उन्हें बहुत मेहनत कि आवश्यकता होती है ऐसे ही स्कूल के कुछ बच्चो को देखा गया है कि एक्ज़ाम के समय बच्चे घर पर तो खूब मेहनत करते है लेकिन जब पेपर देने बैठते हैं तो वह उन प्रश्नों के उत्तर भूल जाते है, व्यक्ति के भूल जाने के कारण का पता आज तक कोई नहीं लगा पाया है लेकिन अब घबराने कि जरुरत नहीं है हमने कुछ ऐसे घरेलु उपायों व नुस्खे लेकर आयें जिससे कि व्यक्ति अपने दिमाग को और तेज कर सकता है तो चलिए जानते है ये इन घरेलु उपायों के बारे में.

घरेलु औषधि

saffron
saffron

केसर:- आज के समय में केसर का भाव आसमान जितना है लेकिन दिमाग के लिए

ये सर्वप्रथम गुणकारी है इसलिए एक चुटकी से भी कम केसर लेकर इसे गर्म दूध में डालकर पियें,

इसके सेवन से व्यक्ति अनिद्रा और डिम्प्रेशन जैसी बीमारियों से दूर रहता है.

Basil
Basil

तुलसी

वैसे तो तुलसी सर्दी जुखाम और भी बीमारियों के लिए गुणकारी औषधि है

लेकिन इसके अलावा तुलसी से एक और फायेदा है जो कि मानसिक तौर पर दिमाग

को तेज रखने में सहायक होती है, इसमें शक्तिशाली एंटीऑक्सी डेंट और मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह में सुधार करती है.

turmeric
turmeric

हल्दी:- वैसे तो हल्दी का उपयोग सब्जियों में किया जाता है लेकिन इसके अलावा हल्दी

एक गुणकारी औषधि भी है जिसे बाहरी चोटों में लगाया जाता है और अंदरूनी चोटों या

शरीर में किसी अंग के दर्द को ठीक करने के लिए इसका सेवन किया जाता है,

इसके अलावा हल्दी दिमाग को तेज करने का भी काम करती है हल्दी में रासायनिक तत्व

कुर्कुमीन दिमाग कि क्षति द्रस्त कोशिकाओं को ठीक करता है तथा दिमाग का रक्त सर्कुलर अच्छे से काम करने में मदद करता है,

#DesiDozz

इसलिए हल्दी गर्म दूध में पीना चाहिए लेकिन ऐसा कभी कभी करें, रोजाना करने से थोड़ा नुक्सान भी हो सकता है.

भविष्य में आने वाली ऐसी ही नयी जानकारियों के अपडेट को सबसे पहले पढ़ने और हमसे बने रहने के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) जरुर करें.

नीचे दी गयी स्टोरी भी पढ़े:

मात्र एक उपचार कर देगा आपके मोटापे को पूरी तरह से ख़त्म

क्या अपने देखा समुद्र किनारे शर्मा सिकंदर का रेड बिकनी योगा ?

Author Profile

Ramgovind kabiriya
Ramgovind kabiriya
मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *