1000 पति पत्नियों की लड़ाई पर किये टेस्ट पर क्या बोले वैज्ञानिक

82 Views

पति पत्नी का रिश्ता इस दुनिया में एक अनोखा रिश्ता होता है। जिसमे अकसर हर घर में खटपट होतो ही रहती है। ऐसा आपस में किसी बात को लेकर कहासुनी होने के चलते लड़ाई का होने एक आम बात होती है। पति पत्नी के झगडे pati patni ki ladai से सम्बन्धित एक रिसर्च भी हुई है। जिसके परिणाम हम आपको नीचे बतायेगे।

यह भी पढ़े: शादी के कई सालो बाद भी इन तरीको से पति पत्नी पा सकते है पहले जैसा प्यार

Pati patni ki ladai

क्या आप दोनों के लड़ाई का मतलब यह तो नहीं की। आपके पाटनर्स के बिच प्यार में कमी आ जाने के चलते बीच में लड़ाई हो रही हो। रिसर्च में बताया गया कि इसके लिए एक खास प्रकार का जीन को जिम्मेदार होता है। तो कौनसा है, वह जीन और क्या होता है उसके पाए जाने से:

यह भी पढ़े: अगर लड़की किसी लड़के से प्यार करती है तो बिना कुछ कहे लड़के को पता कैसे चलेगा?

husband wife fighting science research in america
husband wife fighting science research in america

पति पत्नी पर मिशिगन यूनिवर्सिटी की रिसर्च

यह रिसर्च स्टडी अमेरिका की है। जहाँ पति-पत्नी के सम्बन्धो को लेकर एक खास प्रकार का डाटा सामने आया। इस रिसर्च का मतलब दोनों के बीच के विवादों और लड़ाइयों के पीछे के कारण को जानना था।

रिसर्च के लिए कितने जोड़ो को किया शामिल

मिशिंगन युनिवेर्सिटी ने अपनी इस रिसर्च को करने के लिए तक़रीबन 1000 लोगो को शामिल किया। रिसर्च के अंदर उन कपल से उनकी पर्सनल लाइफ, रेस्लशनशिप, उनके साथ सम्बन्ध और व्यवहार पर सवाल पूछे गए। इसमें ज्यादातर सवाल दोनों के बीच टकराहट को लेकर पूछे गए थे।

कौनसा जीन है जिम्मेदार

रिसर्च में एक बात सामने आयी की ऑक्सीटोसिन नामका एक रिसेप्टर जीन लोगो के व्यवहार पर कड़ा असर डालता है।

जिसके कारण से जीन हार्मोन्स को निकलता है। जिससे लोगो में अवसाद और तनाव की समस्या बढ़ जाती है।

उनके मन मन में नेगटिव फीलिंग आने लगती है। बाद में वह खींच अपने साथी पर उतारते है।

यह भी पढ़े: Breakup ke bad 10 बड़े कारण जो ब्रेकअप के बाद भी प्रेमियों को अलग नहीं करते

happy couple also pass the michigan university research test
happy couple also pass the michigan university research test

क्या खुशहाल जोड़े में था ऑक्सीटोसिन

स्टडी को ऐसे जोड़ी पर भी किया गया जो कपल एक दूसरे से खुश रहते थे।

साथ ही वह अपना खुशहाल जीवन जी रहे थे। उनमे शायद ही लड़ाई झगडे की नौबत आयी हो।

परिक्षण के दौरान शोधकर्ताओ को उनमे ऑक्सीटोसिन नामक का रिपेस्टर नहीं देखा गया।

इन लोगो में यह जीन स्त्रवहित ही नहीं होता था। जो उनके मन में नकरात्मक प्रभाव डाल सके।

जिससे यह पता चलता है कि पति -पत्नी के बीच लड़ाई।

pati patni ki ladai सिर्फ बाहरी मुद्दों की वजह से नहीं बल्कि। इसमें कुछ आंतरिक कारणों को भी जिम्मेदार ठहराया।

यह भी पढ़े: लड़की कब होगी इम्प्रेस इन तरीको को जानने के बाद पता चल जायेगा

All story image source from Google

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी lifestyle अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे ।

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Recommended Post