पासपोर्ट बनवाने के लिए नहीं होना पड़ेगा अब परेशान

To become a passport will not have to be disturbed now
2,841 Views

अक्सर लोग अपने डाॅक्युमेंट बनवाने के लिए परेशान रहते हैं। जैसे बात की जाए तो पासपोर्ट, पासपोर्ट एक ऐसा डाॅक्युमेंट है जो अब तक इतनी आसानी से नहीं बनता, इसे बनवाने के लिए लोगों को पता नहीं कितना पसीना और पेैसा बहाना पड़ता है।

हो सकता है की आप भी इस लाईन में शामिल हो और पासपोर्ट बनवाने के लिए परेशान हो रहे हैं अगर हां तो अब आप को परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि यहां पर मै आपके लिए एक ऐसी खबर लाया हूॅं जिसे पढ़कर आपकी यह परेशानी छु-मंत्तर हो जाऐगी। दरअसल सरकार ने पासपोर्ट प्रक्रिया पहले की तुलना में काफी असान कर दी है जिससे अब आपको परेशान होना नहीं पड़ेगा।

जन्म प्रमाण पत्र की आवश्यक्ता नहीं होगी

सरकार द्वारा पासपोर्ट बनवाने के लिए रियायत देते बताया की अब पासपोर्ट के लिए अलग से जन्म प्रमाण पत्र की आवश्यक्ता नहीं होगी।

आधार और पैन कार्ड का उपयोग जन्म प्रमाण पत्र के सबूत के तौर पर किया जा सकता है।

विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने बताया कि ऐसा करने का उदेश्य लाखों लोगों को पासपोर्ट आसानी से उपलब्ध कराना है।

ये नियम को सरकार ने बदल दिया

जानकारी के लिए आपको बतादें की पासपोर्ट बनवाने के नियमानुसार 1980 के अनुसार 26-01-1989 के बाद जिन लोगों का जन्म हुआ है,

उनके लिए पासपोर्ट के लिए बर्थ सर्टिफिकेट देना अनिवार्य है।

बहरहाल अब इस नियम को सरकार ने बदल दिया है।

पासपोर्ट बनवाने के लिए ये डाॅक्युमेंट जरुरी 

अगर आप भी जा रहे पासपोर्ट बनवाने तो अपने साथ ये डाॅक्युमेंट लें जाएं,

मान्यता प्राप्त शैक्षिणिक बोर्ड के आवेदक की जन्मतिथि युक्त पिछले स्कूल में दाखिला,

स्कूल छोड़ने, मैट्रिकुलेशन सर्टिफिकेट, पैन कार्ड, आधार कार्ड, ई-आधार, ड्राइविंग लाइसेंस,

वोटर आईडी कार्ड और एलआईसी पॉलिसी बॉन्ड भी मान्य होंगे।

ऐसे उठा सकते हैं छूट का फायदा 

पासपोर्ट बनवाने के लिए कुछ लोग ऐसे भी हैं जो छूट का फायदा उठा सकते हैं,

इन्हे पासपोर्ट फीस में 10 प्रतिशत की छूट मिलेगी इनमें आठ वर्ष से कम और 60 साल से ज्यादा की उम्र के लोग शामिल है,

साथ ही ऑनलाइन आवेदन करने वाले एप्लिकेंट सिर्फ एक अभिभावक का नाम ही दे सकते हैं,

ऐसा करने से सिंगल पैरेंट्स को मदद मिलेगी।

पहले से ज्यादा कठिन नहीं है बनवाना 

जानकारी के लिए आपको बतादें की पासपोर्ट फॉर्म के अनुलग्नकों का नंबर 15 से 9 कर दिया गया है,

इसका सिर्फ प्लेन पेपर पर प्रिंट लिया जा सकता है इन कागजों को आप सेल्फ अटेस्ट भी कर सकते हैं।

अब इसके लिए आपको किसी भी नोटरी या कार्यकारी मजिस्ट्रेट के हस्ताक्षर की जरूरत नहीं होगी।

इसका मतलब है कि जिन शादीशुदा जोड़ों का डाइवोर्स हो चुका है या वे अलग रह रहे हैं,

उनके लिए मैरिज प्रमाण पत्र और अपने पति या पत्नी का नाम देना जरूरी नहीं होगा।

हमारे सोशल परिवार का हिस्सा बनने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी News अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

नीचे दी गयी स्टोरी भी पढ़े:

करने जा रहे किसी भवन का निर्माण तो इन बातों का रखें ध्यान वरना बुरे पछताओगे

करने जा रहे ट्रेन का टिकट कैंसिल तो पहले जान लें यह नियम नहीं तो एक रूपया हाथ नहीं लगेगा

ठंडे दूध में 10 मिनट तक भिगोई हुई बासी रोटी का सेवन इन बड़ी बीमारियों से छुटकारा दिलाता है

कंप्यूटर पर ज्यादा देर काम करने वाले अपनी आंखों की रोशनी इस प्रकार बनाए रख सकते हैं

Author Profile

Ramgovind kabiriya
Ramgovind kabiriya
मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Related posts

Leave a Comment