Categories

Archives

ये आसान सा काम करने के बाद किस्मत खुद आपका दरवाजा खटखटाएगी

1,381 Views

Bhairavnath भगवान भैरव नाथ जिस भी इंसान पर प्रसन्न हो जाते हैं मतलब उसकी Luck उसके साथ होती है, उसका हर काम सफल होता है। लेकिन वहीं अगर यह नाराज हो गये तो समझ लों कि उस इंसान कि किस्मत जैसे कभी थी ही नहीं। और फिर दोबारा से इन्हे मनाना या फिर प्रसन्न करना कोई सरल काम नही होता लेकिन इन्हे मनाना भी असंभव नहीं है। आज हम आपको भगवान भैरव नाथ या काल भैरव से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातों के बारे में चर्चा करने वाले हैं जिसे पढ़कर आप भगवान भैरवनाथ को मना सकते है व अपनी किस्मत को फिर से अपने साथ ला सकते है तो चलिए जानते हैं कि आखिर वह कौन से उपाय है जो भगवान भैरवनाथ को प्रसन्न करने के लिए उपयुक्त हैं।

यह भी पढ़े: vaishno devi story हैरान कर देने वाला है माता वैष्णो देवी की पिंडियों का रहस्य

Bhairavnath इस मंत्र का करें जाप

kal bhairavnath photo
kal bhairavnath photo

कालभैरव अष्टकमी पर संध्या के समय आप एक विशेष पूजा कर सकते हैं । जिसमें भगवान भैरवनाथ को भोग अर्पित कर उनकी पूजा अर्चना कर उनसे कृपा प्राप्त कर सकते हैं । पूजा के साथ आप इस मंत्र का जाप करें । मंत्र – अतिक्रूर महाकाय कल्पान्त दहनोपम्, भैरव नमस्तुभ्यं अनुज्ञा दातुमर्हसि ।। इस मंत्र का जाप करने से आपकी समस्त् मनोकामनाएं पूर्ण होंगी ।

कालभैरव के विशेष दिन

god bhairavnath photo in temple
god bhairavnath photo in temple

शास्त्रों में रविवार, बुधवार और गुरुवार इन तीन दिनों को भैरवनाथ का दिन बताया गया है ।

इन दिनों में आगे बताए जा रहे कोई भी उपाय करने से आपको भगवान भैरवनाथ की विशेष कृपा प्राप्तए होगी,

और काल भैरव की पूजा करने वाले भक्त हर कार्य में सफल होंगे ।

कालभैरव शिव के ही रूप हैं,

बटुक भैरव और काल भैरव ये दो रूप हैं जो उनके क्रोधी और सौम्यव स्व रूप को दर्शाते हैं ।

यह भी पढ़े:  6 आसान तरीके नए साल से अपनाये पैसो के लिए कर्ज लेने की जरुरत नहीं पड़ेगी

कुत्ते को रोटी खिलाएं

kutte ko roti dene se kya fayda
kutte ko roti dene se kya fayda

बताए गए 3 दिनों में से किसी भी दिन आप दो रंग के कुत्तेा को रोटी खिलाएं ।

खिलाने से पहले ये रोटी तेल में डुबो लें ।

अगर कुत्ता रोटी खा ले तो समझिए भैरवनाथ आप पर खुश हैं.

अगर कुत्ता रोटी सूंघ कर आगे बढ़ जाए तो ये क्रम अगले 3 दिनों में भी जारी रखें ।

जब तक आपकी ओर से बनाई गई रोटी खाई नहीं जाती समझिए आपसे भगवान प्रसन्न नहीं हुए हैं ।

तिल, तेल और उड़द का उपाय

til tel gud udad ke kya upay hai
til tel gud udad ke kya upay hai

सवा सौ ग्राम काले उड़द, सवा सौ ग्राम काले तिल, सवा 11 रुपए एक साथ लेकर सवा मीटर काले कपड़े में पोटली बना लें.

और भगवान भैरवनाथ के मंदिर में बुधवार के दिन चढ़ा आएं ।

शनिवार के दिन सरसों के तेल में पापड़, पकौड़े,

पुए जैसे और भी तले हुए पकवान बना लें और इसे गरीबों में जाकर बांट दें ।

ये उपाय आपकी आर्थिक समस्यानओं को दूर करेगा ।

बुधवार के दिन सवा किलो जलेबी बनवाकर भैरव नाथ को चढ़ाएं और

इसके बाद थोड़ा सा कुत्तों को खिलाकर प्रसाद के रूप में बांट दें ।

बटुकों को बांटे प्रसाद

bhairav nath baba ki puja kaise kare
bhairav nath baba ki puja kaise kare

अपने घर के आस-पास या शहर के किसी ऐसे मंदिर को खोजें जहां बाबा भैरवनाथ bhairavnath की पूजा ना की जाती हो.

कोई पुरानी शिला, पेड़ के नीचे बने मंदिर में आप ऐसा कर सकते हैं ।

अब इस मंदिर में रविवार की सुबह सिंदूर, सरसों का तेल, नारियल, पुए और जलेबी लेकर पहुंच जाएं ।

मन लगाकर भैरवनाथ को प्रसन्नक करें ।

पूजा के बाद 5 से लेकर 7 साल तक की उम्र के लड़कों को चने-चिरौंजी और चढ़ाया हुआ प्रसाद अर्पित करें ।

यह भी पढ़े:  Surya dev ki upasana सुखी व समृध्द जीवन जीने के लिए अपनाएं ये उपाय

All story image source from Google

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Religion अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे ।

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Ramgovind kabiriya

मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hide Related Posts