navratri nine days special worship

नवरात्री के नौ दिन करें ये खास पूजा, मां भगवती खुद करेंगी आपकी मनोंकामना पूरी

Desi Festival
380 Views

 

चैत्र नवरात्र अब शुरू होने को है ऐसे में हर जगह इसकी तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं। मंदिरो में भजन, कीर्तन देखें जा सकते हैं वैसे तो हर दिन मां भगवती की पूजा कि जाती है लेकिन चैत्र नवरात्र वह खास दिन है जिनमें मां भगवती आपकी हर मनोकामना पूरी करती हैं। navratri nine days special worship यह नवरात्री जहां 18 मार्च से शुरू हो रही है तो वहीं पर यह इस बार अष्टमी तक ही मनायी जाएगी इसका मतलब यही है कि 25 मार्च को ही अष्टमी और नंवमी मनायी जाएगी।

navratri nine days special worship

नवरात्री पर कैसे करें पुण्य की प्राप्ती

Nature of Mother Durga on Navratri
Nature of Mother Durga on Navratri

वैसे तो साल में नवरात्री दो बार आती है एक शरद और दूसरी चैत्र नवरात्री। अब जानना यह है

कि आखिर ऐसा क्या खास करें जिससे इस नवरात्री पर हमें पुण्य कि प्राप्ती हो और मां भगवती हमसें खुश हो।

अगर आप इन नौ दिन मां के सभी रूपों कि पूजा के दौरान अलग-अलग मंत्रो का उपयोग करते हैं

तो निश्चित ही मां भगवती आपसे प्रसन्न होंगी। इसके अलावा अगर आप इन नौं दिनो तक कुछ खास

तरीकों से माता को प्रसन्न करते हैं तो मां आपकी हर मुराद को पूरी करेंगी। तो चलिए जानते हैं

कि आखिर वह कौन सा तरीका है जो माता को बहुत ही जल्द प्रसन्न करने में कारगर है।

हर दिन करें खास काम

Receiving virtue on Navratri
Receiving virtue on Navratri

चैत्र नवरात्रि में प्रत्येक दिन करें अलग-अलग मंत्रों का उच्चारण और पाए जीवन की हर समस्या का समाधान

पहला नवरात्र – मां शैलपुत्री

इस दिन मां के शैलपुत्री रूप की पूजा अर्चना की जाती है। शैलपुत्रि को सफेद रंग खूब भाता है।
मंत्र ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं शैलपुत्र्यै नम:’

दूसरा नवरात्र – मां ब्रह्मचारिणी

नवरात्रि के दूसरे दिन मां के दूसरे रूप ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। ब्रह्मचारिणी को संयम, तप, वैराग्य तथा विजय प्राप्ति की देवी कहा जाता है।
मंत्र – ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं ब्रह्मचारिण्यै नम:’

तीसरा नवरात्र – मां चंद्रघंटा

मां भगवती का तीसरा रूप चंद्रघंटा देवी का होता है। मां चंद्रघंटा की पूजा सभी कष्टों से मुक्ति पाने के लिए होती है।
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चन्द्रघंटायै नम:’

चौथा नवरात्र – मां कुष्मांडा

नवरात्र का चौधा दिन कुष्मांडा देवी का होता है। अच्छे स्वास्थय और रोगों

से मुक्ति की कामना के लिए कुष्मांडा देवी की पूजा की जाती है।
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं कूष्मांडायै नम:’

पांचवा नवरात्र- मां स्कंदमाता

मां का पांचवा रूप स्कंदमाता का होता है। मां स्कंदमाता की पूजा का विशेष महत्व होता है।

मोक्ष, सुख संपति के लिए मां के इस रूप की पूजा की जाती है।
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं स्कंदमातायै नम:’

छठा नवरात्र – मां कात्यायिनी

नवरात्र के नौ पवित्र दिनों में छठे दिन मां कात्यायिनी की पूजा की जाती है।

मां भगवती के इस रूप को रोग, शोक और दुखों से निवारण पाने के लिए पूजा जाता है।
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं कात्यायनायै नम:’

सांतवा नवरात्र – मां कालरात्रि

मां भगवती के सांतवा रूप कालरात्रि देवी है। ये सभी रूपों में सबसे भंयकर और शक्तिशाली रूप है।

इस दिन दुश्मनों का नाश और दुखों को समाप्त करने की लिए पूजा करते हैं.
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं कालरात्र्यै नम:’

आंठवा नवरात्र – मां महागौरी

नवरात्र के आंठवे दिन महागौरी की पूजा की जाती है. कुछ लोग आंठवे दिन ही कन्या पूजन करते हैं।

महागौरी की पूजा करने से अलौकिक सिद्धियां प्राप्त होती हैं।
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महागौर्ये नम:’

नौवा नवरात्र – मां सिद्धिदात्री

नौवां दिन नवरात्र का आखिरी दिन होता है। इस दिन भोग में कई तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं। इस दिन संपूर्ण मनोकामनाओं को पूरा करने के लिए पूजा अर्चना की जाती है।
मंत्र- ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं सिद्धिदात्यै नम:’

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे: FACEBOOK व TWITTER

भविष्य में आने वाली नयी सरकारी जॉब्स के अपडेट से बने रहने के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) जरुर करें.

नीचे दी गयी स्टोरी भी पढ़े:

नवरात्रि 2018: इस नवरात्र पर जानें कौन सी राशि के लोगो की बदलने वाली है किस्मत और किसको मिलने वाला है धन

ब्रम्हा जी के इस सुझाव से हनुमान जी को मिली थी जीत, वरना कहानी कुछ और ही होती

 ईमेल में खबरों की चिट्ठियां को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Author Profile

Ramgovind kabiriya
Ramgovind kabiriya
मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *