Categories

Archives

mrityu in hindi मौत से पहले यमराज के मिलते हैं ये 4 संकेत

2,386 Views

 

मौत किसी के बस में नहीं होती उसे आना है तो वह जरूर आयेगी। हर इंसान के मन में यह सवाल होता है कि वह कम मृत्यु को प्राप्त होगा या फिर उसका जीवन कितना लंबा है। दअरसल ऐसा पता कर पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। लेकिन अगर हम ज्योतिष कि बात करें तो ज्योतिष मेे कुछ ऐसे ही अंसम्भव सवालों के जवाब हमें मिल जाते हैं और आज हम आपको ज्योतिष के माध्यम से ही आपकी mrityu in hindi मृत्यु से जुड़ी कुछ ऐसी रोचक बातें लेकर आए हैं जिनसे शायद आप भी अंजान हो।

Mrityu in hindi

दरअसल यहां पर हम आपको ऐसी बात से अवगत कराने जा रहे है।

जिसे पढ़कर आप यह जान सकते है कि आपकी मृत्यु नजदीक है।

ज्योतिष के माध्यम से इंसान की मृत्यु के समय जब Yamraj उन्हे लेने आते है।

तब आने से पहले वह 4 संकेत देते है।

जिनको पहचानकर आप यह पता कर सकते हैं कि आपकी मृत्यु नज़दीक है।

तो चलिए जानते है आखिर कौन से वह संकेत हैं?

kya hai yamraj le amrit ki kahani
kya hai yamraj le amrit ki kahani

यम राज और अमृत की कहानी क्या इस बारे में हम आपको बता रहे हैं। अमृत यमुना के किनारे रहता था।

अपनी मौत के भय से वो यम देवता की दिन रात पूजा करता था।

उसकी तपस्या से खुश हो कर यम राज ने उसे वरदान मांगने को कहा।

इस पर अमृत ने अमरता का वरदान मांगा। इस पर यम ने कहा कि ऐसा नहीं हो सकता है। मौत से कोई नहीं बच सकता है।

manav ke pran nikalte hue yamraj ki photo
manav ke pran nikalte hue yamraj ki photo

क्या है मृत्यु के संकेत

यम राज की ये बात सुनकर अमृत ने कहा कि अगर मौत से कोई बच नहीं सकता।

तो कुछ ऐसा करिए जिस से जब मौत नजदीक हो तो पता चल जाए कि वो मरने वाला है।

ऐसा होने पर वो अपने अधूरे काम कर सकता है। mrityu in hindi अपने परिवार की आगे की जिंदगी के लिए कुछ प्रबंध कर सकता है।

इसके बाद ही यम ने उस से वादा किया कि ऐसा ही होगा।

यम ने अमृत से वादा लिया अमृत को वरदान देने के बाद यम ने उस से एक वादा भी लिया।

yam and amrut story in hindi
yam and amrut story in hindi

यम ने कहा कि जैसे ही उसे अपनी मौत का संकेत मिल जाएगा वो संसार से विदाई लेने की तैयारी शुरू कर देगा।

इतना कहकर यम अदृश्य हो गए। इसके बाद अमृत आराम से अपनी जिंदगी जीने लगा।

उसने साधना बंद कर दी, उसे यकीन था कि यम संकेत भेजेंगे। Mrityu वो विलासिता से जीवन जीने लगा।

धीरे धीरे उसके बाल सफेद होने लगे। यम के संकेतों को समझ नहीं पाया बाल सफेद होने के बाद अमृत के दांत टूट गए।

mrityu ke thik pahle kya nazar aata hai
mrityu ke thik pahle kya nazar aata hai

हिन्दू मान्यता के अनुसार मृत्यु के ठीक पहले क्या होता है

उसकी आंखों की रोशनी भी कमजोर हो गई। फिर भी अभी तक उसे कोई यम राज का कोई संदेश नहीं मिला था।

इसी तरह, कुछ साल और बीते और अब वह बिस्तर से उठने में भी असमर्थ हो गया।

उसका शरीर बिल्कुल लकवाग्रस्त जैसी स्थिति में पहुंच गया।

एक दिन वो हैरान रह गया। mrityu in hindi जब उसने अपने पास यमदूतों को देखा।

उसने परेशान होकर घर में यमराज का पत्र ढूंढना शुरू कर दिया।

उसे ऐसा कोई पत्र नहीं मिला और उसने यम राज पर धोखा देने का आरोप लगाया।

yamraj apne vahan kala bhains ke sath photo
yamraj apne vahan kala bhains ke sath photo

यमराज का जवाब अमृत के आरोपों पर यम ने उसे कहा कि उन्होंने उसे 4 संकेत भेजे.

लेकिन वो अपनी विलासिता मं उन संकेतों को समझ नहीं पाया।

इस पर अमृत ने कहा कि वो तो इस बात का इंतजार कर रहा था कि यम की तरफ से उसे कोई पत्र मिलेगा,

जिस में लिखा होगा कि वो मरने वाला है। इस पर यम ने कहा कि वो संकेत पत्र के रूप में भेजेंगे ये किसने कहा था।

मौत के 4 संकेत यम ने उस से कहा कि उन्होने 4 संकेत दिए थे।

जब तुम्हारे बाल सफेद हो गए थे वो पहला संकेत था।

animated photo of yamraj
animated photo of yamraj

जब तुम्हारे सारे दांत टूट गए, वो मेरा दूसरा संकेत था।

तीसरा संकेत वो था जब अमृत ने अपनी आंखों की रोशनी खो दी। चौथा संदेश वो था.

जब शरीर के सभी अंगों ने काम करना बंद कर दिया।

#DesiDozzReligion

mrityu in hindi यम ने अमृत से कहा कि वो इनमें से कोई भी संकेत नहीं समझ पाया।

आप भी समझिए इन संकेतों को यम की तरफ से हर किसी को ये 4 संकेत भेजे जाते हैं।

इनको एक तरह से जीवन चक्र भी कहा जा सकता है। आप के बाल सफेद होने लगते हैं।

दांत टूट जाते हैं। बुढ़ापे में ऐसा ही होता है। उसके बाद आपकी आंखों की रोशनी जाती रहती है।

आप असहाय हो जाते हैं। बिस्तर पर पड़ जाते हैं। ये संकेत काफी पुराने समय से हमारे बड़े बूढ़े बताते आए हैं,

आपने भी सुना होगा कि कई बड़े बुजुर्ग ये कहते थे कि उनके जाने का समय हो गया है। वो इन संकेतं के कारण ही कहते थे।

All story image source from Google

हमारे सोशल परिवार का हिस्सा बनने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Religion अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे |

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Ramgovind kabiriya

मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hide Related Posts