Categories

Archives

एक ऐसा खास और अद्भुत मंदिर जहां आज भी हनुमान जी पड़े हैं सुप्तावस्था में

1,979 Views

संकट मोचन हनुमान अपने भक्तों के संकट हरने वाले माने गये है। जब भी कोई इंसान किसी विपत्ती में पड़ता है तो उसे भगवान बजरंगबलि की ही याद आती है। भगवान बजरंग बलि ही ऐसे देवता है जो लोगो की समस्या का जल्दी समाधान करते हैं। आज हम आपसे भगवान बजरंगबलि के एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं। जहां आज भी भगवान हनुमान सुप्तावस्था sote hue hanuman में पड़े हैं।

Sote hue hanuman इस धरती पर विद्यमान

आज भी इंसान जब विपत्ती में पड़ता है तो वह भगवान बजरंगबलि को ही याद करता है। एक कथा के अनुसार यह ज्ञात होता है कि माता सीता ने एक बार हनुमान जी से प्रसन्न होकर उन्हे वरदान दिया था की वो हमेशा इस धरती पर विद्यमान रहेगें। तो तब से ही भगवान बजरंगबलि अपने भक्तों की विपत्ती को दूर करने के लिए हमेशा से ही इस धरती पर हैं।

यहां पर हैं हनुमान विश्राम मुद्रा में

हनुमान जी का एक मंदिर ऐसा है जो बहुत ही अद्भुत है। इस मंदिर में भगवान हनुमान विश्राम की मुद्रा में हैं।

यह मंदिर मध्यप्रदेश के मंडला में मौजूद है।

सीतारपटन गांव का यह अनोखा मंदिर अपने आप में एक पौराणिक कथा समेटे हुए हैं।

यह मंदिर अपने आप में बहुत अनोखा है।

लक्ष्मण के लिए संजीवनी बुटी लेने गये थे हनुमान

Here are the Hanuman ji in resting posture
Here are the Hanuman ji in resting posture

इस मंदिर के बारे में मान्यता है कि जिस समय लक्ष्मण मेघनाथ के शक्ति बाण से घायल होकर बेहोश हो गए थे. तब राम की पूरी वानर सेना में एक हनुमान ही थे, जो उन्हें बचाने के लिए संजीवनी बूटी ला सकते थे। रावण के वैद्यराज शुसेन ने राम को बताया कि लक्ष्मण के प्राण तभी बचेंगे, जब उन्हें संजीवनी दी जाएगी। इस बात को सुनकर जामवंत ने राम से कहा कि सेना में केवल हनुमान ही ऐसे हैं, जो संजीवनी ला सकते हैं और लक्ष्मण के प्राण बचा सकते हैं।

तो हनुमान जी आज भी इसी अवस्था में मौजूद हैं

sote hue hanuman उनकी छवि वहीँ है। वैसे ही हाथ में संजीवनी लेकर वो लेटे हुए हैं।

जब वो भगवान हनुमान बेहोश हुए उसी समय से सीतारपटन गांव में हनुमान की मूर्ति एक शिला पर लेटी हुई है।

जिसका दर्शन करने के लिए भक्त दूर-दूर से आते हैं।

लेटे हुए हनुमान जी की मूर्ति को भक्तों द्वारा श्रद्धा अनुसार लड्डू को खिलाया जाता है।

मंगलवार तथा शनिवार के दिन भक्तों की लंबी कतार लेटे हुए हनुमान के दर्शन के लिए पहुंचती है।

आज भी उस मंदिर में ठीक वैसे ही लेटे हुए हैं हनुमान जी।

All story image source from Google

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Religion अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे ।

नीचे दी गयी स्टोरी भी पढ़े:

शास्त्र के अनुसार हर परेशानी के हल लिए जलाएं अलग अलग तेल का दीपक

घर में दिशा के अनुसार रखें साफ़ सफाई के उपकरण, परेशानियाँ नज़दीक भी नहीं भटकेंगी

तो इसलिए भगवान गणेश को पसंद है मोदक, जानें इसके पीछे क्या कारण है

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Ramgovind kabiriya

मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hide Related Posts