Categories

Archives

घर में दिशा के अनुसार रखें साफ़ सफाई के उपकरण, परेशानियाँ नज़दीक भी नहीं भटकेंगी

5,088 Views

जिस घर में साफ़ सफाई होती है उस घर में माता लक्ष्मी का वास होता है. वास्तु शास्त्र में साफ़ सफाई के विषय में कई महत्वपूर्ण बातें बताई गयी हैं. इन्ही में से एक है सफाई में उपयोग किये जाने वाले उपकरण safai ke upkaran, जो यदि गलत दिशा में रखे हों. तो व्यक्ति के घर की साफ सफाई का कोई लाभ नहीं होता है.

Safai ke upkaran

इसलिए इनका ध्यान रखना बहुत जरूरी है तो आइये जानते हैं की साफ़ सफाई में उपयोग किये जाने वाले उपकरण का दिशा से सम्बंधित क्या परिणाम होता है.

घर के उत्तरी भाग में सफाई

यदि आप अपने घर के उत्तरी भाग को सफाई से सम्बंधित उपकरण या कूड़ेदान को रखते हैं तो आपके घर में इन वस्तुओं का अधिक से अधिक उपयोग होता है जो आपके घर में गंदगी और कूड़े को बहुत कम कर देते हैं.

घर के पूर्वी भाग में सफाई

यदि आपने अपने घर के पूर्वी भाग में सफाई से सम्बंधित कोई उपकरण या कूड़ेदान रखा है तो इससे आपको अपने घर की सफाई करने की प्रेरणा मिलती रहती है जिससे आपका घर हमेशा स्वच्छ व सुंदर बना रहता है.

घर के दक्षिणी भाग में सफाई

आपके घर के दक्षिणी भाग यदि कोई साफ़ सफाई का उपकरण या कूड़ेदान रखा है.

तो यह आपको साफ़ सफाई से विमुख रखता है.

जिसके कारण आपके घर में गंदगी अधिक हो सकती है.

इस दिशा में रखे उपकरण आपके घर में साफ़ सफाई करने वाले कर्मचारी को अक्षम बना देते हैं.

जिससे गंदगी अधिक बढ़ जाती है.

घर के पश्चिमी भाग में सफाई

यदि आपने अपने घर के पश्चिमी भाग में को साफ़ सफाई का उपकरण रखा है.

तो इसका प्रभाव भी दक्षिण दिशा की ही भांति होता है जो आपको सफाई से विमुख करता है.

जिससे गंदगी को बढ़ावा मिलता है.

safai ke upkaran इन सब दिशाओं में हमें अपने घर में साफ़ सफाई से संबंधित वस्तुओं को उत्तर या पूर्वी दिशा में ही रखना चाहिए.

जिससे हमारा घर हमेशा स्वच्छ व सुंदर बना रहे.

All story image source from Google

लगातार ऐसी जानकारी पाने के लिए आगे दिए सोशल बटन पर लाइक तथा फॉलो जरूर करे:

और

भविष्य में आने वाली नयी Vastu Shastra अपडेट के लिए सीधे हाथ पर दिए नोटिफिकेशन को चालू (allow) और डाउनलोड करे फ़ास्ट Mobile App .

जानकारी को सबसे पहले अपने दोस्तों तक पहुंचने के लिए नीचे दिए सोशल मीडिया की मदद ले और शेयर करे ।

नीचे दी गयी स्टोरी भी पढ़े:

ये वो ख़ास समय है जिस दिन भूल कर भी तुलसी की पत्तियां नहीं तोड़नी चाहिए वरना..

भारत का यह ख़ास मंदिर जहाँ माता खुले में विराजमान है, जानें आखिर क्यों इस मंदिर की छत नहीं है

जीवन में हमेशा इन दो स्त्रियों से दूरी बना कर रखें वरना बर्बाद होने में समय नहीं लगेगा

इस तरह की खबरों को सबसे पहले पढ़ने के लिए ‘सब्सक्राइब’ करे।


Ramgovind kabiriya

मैं रामगोविन्द कबीरिया मुझे लिखने का काफी शौक है, मैं कन्टेन्ट राइटिंग में पिछले तीन सालों से काम कर रहा हूॅं। मैंने इन्दौर के डीएवीवी यूनिवर्सटी से एम.ए. मासकम्युनिकेशन किया है। इसके अलावा मैंने कम्प्युटर के क्षेत्र से सम्बधित पीजीडीसीए भी किया है। मैं न्यूज़, फैशन, धर्म, लाईफस्टाइल, वायरल स्पाॅर्टस आदि सभी कैटेगिरी में लिखता हूॅं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hide Related Posts